मंदिर की दान पेटी में कोंडम डालना पड़ा 3 युवकों को महंगा, नवाज़ के साथ घटी भयानक घटना, दो ने डर से कबूला जुर्म

0
19

धर्म मानव कल्याण के लिए निर्मित की गई एक संस्था है। जो जीवन में पवित्रता, अनुशासन और सत्कर्म करने के लिए प्रेरित करता है। और इन सब का एक केंद्र होता है, जिसे मंदिर कहते हैं। मंदिर पवित्रता की सबसे पावन निशानी मानी जाती है, यहां सच्चे मन से लोग अपने दुख दूर करने आते हैं। मगर कर्नाटक के मंगलुरु जिले से एक ऐसा मामला सामने आ रहा है जिसने पूरे देश में चर्चा बढ़ा दी है। दरअसल यहां रहने वाले 3 युवक मंदिर की दान पेटी में कोंडम और अन्य अपमानजनक चीजें डाला करते थे, मगर कुछ ही दिनों बाद इनमें से एक सदस्य के साथ एक दुखद घटना घटी। जिसके बाद डर कर बाकी बचे दो युवकों ने अपने जुर्म को कबूल लिया। 

मंगलुरु जिले के दो मुस्लिम युवकों ने माफी मांगते हुए जो कहानी सुनाई है वो सबको उलझन में डाल सकती है। युवक खुद अपने आप सामने आए और एक डर की वजह से अपने जुल्म को तोते की तरह उगलने लगे। यह डर था उनके साथी के साथ जो घटना घटी वो उनके साथ ना घटे। दरअसल इनके एक साथी को लाल रंग की उल्टी हुई थी इसी उल्टी के साथ उसके प्राण पखुरे भी उड़ गए। इस घटना से उसके बाकी के दो साथी डर गए और भगवान के गुस्से से बच जाए इसलिए जुर्म कबूल लिया। 

कहा जा रहा है कि इन दो युवकों को भी अपने शरीर में इसी तरह के अजीब लक्षण महसूस हो रहे थे। जिससे उन्हें भी लग रहा था कि वे नहीं बच पाएंगे। वहीं हाल ही में अपने एक साथी को खोने के बाद इनका डर और ज़्यादा बढ़ गया। अपने पाप के प्रायश्चित के लिए यह प्रतिदिन मंदिर आने लगे और भगवान से माफी मांगने लगे। 

मुस्लिम युवकों का इस तरह मंदिर में आना पुजारी को भी खटक रहा था। पुजारी को लगा यह भगवान का मजाक उड़ाने आये हैं, मगर जैसे पुजारी को हकीक़त पता चली। तो उन्होंने युवकों को भगवान से क्षमा मांगने का तरीका भी बताया। मगर कहते हैं ना दीवारों के भी कान होते हैं, यह बात भी ज़्यादा समय तक छुपी रह ना सकी। और धीरे धीरे यह बात पूरे इलाके में फैल गयी, और मामला पुलिस के संज्ञान में आ गया। 

फिलहाल आरोपी तौफीक और अब्दुल लतीफ नाम के दो युवकों को पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया है। तौफीक और लतीफ ने अपना जुर्म भी पुलिस के सामने कबूल कर लिया है। आरोपियों के अनुसार उन्होंने कारगाजा मंदिर में नमोउत्सव महोत्सव के दौरान मंदिर की हुंडी में कई तरह की अश्लील चीजें डाली थी। नवाज के साथ घटी घटना ने बाकी के दो युवकों को भी डरा दिया था। उनको लग रहा था कि भगवान उनको उनकी पापों की सजा दे रहा है।