अभिनेत्री फिल्म में वास्तविक का प्रतिनिधित्व करने के लिए वास्तविक जीवन में ले जाती है, और कैमरे के सामने 3 बच्चों को जन्म देती है

0
2

बदलते युग प्रतियोगिता का दौर है, आज हर क्षेत्र में सिर्फ एक ऐसी जगह मिलती है जो सबसे अच्छी हो। बेस्ट बनने के लिए आपको 100 फीसदी देना होगा। यही नियम बॉलीवुड पर भी लागू होता है, और यहां भी एक्टर अपने सीन के हर सीन को बनाने के लिए कड़ी मेहनत करता है। अक्सर ये बॉलीवुड स्टार्स 100 फीसदी देने की प्रक्रिया में काफी रिस्क भी लेते हैं। न केवल बॉलीवुड के प्रतिनिधि बल्कि दक्षिणी उद्योग के प्रतिनिधि भी उनके प्रतिनिधित्व को गंभीरता से लेते हैं। आज हम इन्हीं एक्ट्रेसेस में से एक शोइता मेनन के बारे में बताएंगे, जिन्होंने साउथ इंडस्ट्री और बॉलीवुड दोनों में काम किया है।

श्वेता मेनन हाल ही में 47 साल की हो गई हैं। जन्म 23 अप्रैल, 1974 को चंडीगढ़ में हुआ था। श्वेता मेनन अपने पेंडुलम स्टाइल के लिए जानी जाती थीं। लोग शानदार तस्वीरें लेने के लिए बेसब्री से इंतजार करते थे। फिल्मों के साथ-साथ शोइता मेनन की सच्ची जिंदगी भी काफी चर्चा का विषय बनी रही। अपनी जिंदगी में, शोइता मेनन के पास ज़िगतान था, और उनकी पहली शादी बॉबी भुसेल से हुई थी। हालांकि, यह शादी ज्यादा दिन नहीं चल पाई और 2007 में दोनों अलग हो गए।

भारतीय एयरपोर्ट अधिकारी के पिता की बेटी श्वेता मेनन की पहली शादी और गृहिणी की मां के टूटने के बाद अभिनेत्री ने दूसरी शादी को गायक-संगीतकार श्रीवलसन मेनन से जोड़ दिया। अभिनेत्री ने तब एक उत्कृष्ट काम किया जो पहले किसी ने नहीं किया था। दरअसल, शोइता मेनन ने अपनी फिल्म में डायरेक्ट डिलीवरी को फिल्माया था। बता दें कि इस फिल्म में यह लाइव डिलीवरी सीन 45 मिनट तक चला था।

पहली बार फिल्म मलयामी में एक्टिंग में नजर आईं श्वेता मेनन एक्टिंग से ऊब चुकी थीं और उन्होंने फैशन शो में करियर बनाने का फैसला किया। लेकिन उन्हें याद है कि उनकी कालीमन्नू फिल्म की वजह से दरअसल, इस फिल्म को सफल बनाने के लिए शोइता ने कैमरे के सामने डिलीवर किया था। उसके बाद यह बात काफी चर्चा में आई, हालांकि फिल्म पर भी इसका कोई खास असर नहीं पड़ा और फिल्म असफल रही। लेकिन उस समय ऐसा करने से सभी हैरान रह गए थे।