फिल्मांकन की प्रक्रिया में, अभिनेत्री ने सीमा पार की, और बिना कपड़े पहने पवित्र स्थान पर पहुंच गई।

0
6

सोशल नेटवर्किंग साइट इंस्टाग्राम पर हर रोज हजारों फोटो और वीडियो पोस्ट किए जाते हैं। इनमें से कई इमेज यूजर्स को काफी पसंद आती हैं, जबकि कुछ इमेज देखकर लोग अपने गुस्से पर काबू नहीं रख पाते हैं। यह ध्यान देने योग्य है कि इनमें से कई सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर हैं, जो बहुत सारी संज्ञानात्मक चीजें पोस्ट करते हैं। वहीं कुछ ऐसे भी हैं जो अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर न्यूडिटी स्टोर खोलकर बैठते हैं। इनमें से हजारों यूजर्स देश-विदेश में बिखरे हुए हैं। जो अक्सर कैमरे के सामने नंगी होकर उन्हें सुर्खियों में बनाकर फोटो और वीडियो शेयर करते रहते हैं।

बता दें कि पिछले काफी समय से कई इंफ्लुएंसर ने स्पॉटलाइट में आने के लिए ऐसा किया है। लेकिन इस बार यूजर की ऐसी तस्वीरें खूब फैली हैं। इसने पूरे इंडोनेशिया में लोगों को नाराज कर दिया है। दरअसल इंडोनेशिया की रहने वाली इंस्टाग्राम स्टार एलिना योगा ने पिछले दिनों कुछ फोटोज शेयर की हैं। वह एक पेड़ के पास फंस गई थी और एक नग्न तस्वीर ली। बता दें, उन्होंने अंजान में एक बेहद पवित्र इंडोनेशियाई पेड़ के नीचे ऐसा किया था। व्यवसायी नीलोह गेलेंटिको ने तब उनकी इन तस्वीरों को देखा और अधिकारियों से कल कार्रवाई करने के लिए कहा।

नीलोह ने कहा कि रूसी लड़की ऐलेना योगा ने 700 साल पुराने कागज की छाल के पेड़ के नीचे एक नग्न फोटो शूट लिया। वहाँ के लोग क्याव बोथे को क्या कहते हैं। बता दें कि 700 साल पुराने ये पेड़ बाली के बाबाकन मंदिर में स्थित हैं। जिसे वहां के लोग बहुत पवित्र मानते हैं। जब उसने मामले को बढ़ते हुए देखा, तो एलेना ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल से अपनी तस्वीरें हटा दीं। उन्होंने 4 मई को एक वीडियो भी पोस्ट किया और कहा कि उन्हें पेड़ के बारे में कुछ नहीं पता था, इसलिए उन्होंने ऐसा काम किया। जिसके लिए आप इंडोनेशिया के सभी लोगों से माफी मांगते हैं। उसने बताया कि पेड़ के नीचे दो हाथ जोड़कर थाने गई और उसने सब कुछ सच बताया।

इस बात को स्पष्ट करने के लिए पुलिस प्रवक्ता रानीवली डायने कांड्रा ने भी कहा कि ऐलेना पुलिस स्टेशन आई थी। और उसने सारी बातें बताईं। बता दें कि इस मामले की जांच जारी है। वहीं, ऐलेना पर सूचना और इलेक्ट्रॉनिक लेनदेन अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया जा रहा है और अगर ये ऐलेना तस्वीरें अश्लील सामग्री के दायरे में आती हैं तो आपको 6 से 7 साल की जेल और 51 रुपये का जुर्माना भरना पड़ सकता है।