जेठालाल के ख़ास दोस्त तारक मेहता ने छोड़ा उनका साथ, नम आंखों से देगी TMKOC की टीम विदाई

0
2

छोटे पर्दे का बहु चर्चित शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ काफी ज्यादा पॉपुलर कॉमेडी शो है। इस शो ने तकरीबन 14 सालों से लोगों को हंसाया है। जिसने अपने 13 हज़ार से ज्यादा एपिसोड्स पूरे कर लिए हैं। इस शो ने आज तक बहुत सारा प्यार पाया है। प्यार पाने के साथ-साथ शो ने बहुत कुछ खोया भी है। इस शो से कई कलाकारों ने पहचान पाई। आज के समय में वे लोग उनके असल नाम से नहीं बल्कि शो में रखे गए नामों से जानते हैं। लेकिन अब वही कलाकार शो को छोड़कर जा रहे हैं, जो इस शो की नींव हुआ करते थे। 

शो को छोड़कर जाने वाले कलाकारों में टप्पू, शो की जान दया बेन, सबकी पसंद बबीता जी आदि कलाकार शामिल हैं। वहीं अब शो की ओर से एक अन्य दुखद खबर आ रही है। जिसे सुनकर फैंस काफी ज्यादा दुखी हैं। दरअसल, खबर के मुताबिक तारक मेहता उर्फ शैलेष लोढ़ा जल्द ही शो को अलविदा कहने वाले हैं। एक्टर के बारे में ये खबर बीते कुछ समय से लगातार वायरल हो रहा है। हाल ही में उनकी एक पोस्ट भी काफी ज्यादा सुर्खियों में है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि हबीब साहब का एक शेर कमाल का है कि मजबूत से मजबूत लोहा टूट जाता है। कई झूठे इकट्ठे हों, तो सच्चा टूट जाता है। जिसके बाद से उनके फैंस को लग रहा है कि शैलेष शो से जाने वाले हैं।

वहीं, फैंस ये चाह रहे हैं कि एक्टर शो को कभी भी छोड़कर न जाएं  क्योंकि उनके बिना शो में कोई मज़ा ही नहीं रह जाएगा। वायरल हो रही इस खबर पर शो के प्रोड्यूसर असित मोदी का रिएक्शन भी काफी ज्यादा वायरल हो रहा है। असित मोदी कहते नज़र आ रहे हैं कि वो भी ये आशा करते हैं कि शैलेष लोढ़ा शो को बिल्कुल भी न छोडें। उन्होंने अफवाह फैलाने वाले लोगों को लताड़ते हुए कहा कि पता नहीं वो कौन लोग हैं, जो ऐसी झूठी अफवाह फैला रहे हैं, क्योंकि न ही  शैलेष लोढ़ा की तरफ से और न हीं खुद उनकी तरफ से शो को छोड़ने की कोई ऑफीशियल इंस्टेटमेंट आई है। तो ये सब बिल्कुल न कहा जाए कि शैलेष शो को क्विट कर रहे हैं।

असित मोदी ने कहा कि ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ शो एक परिवार है, जिसे उन्होंने 14 साल तक संभाल कर चलाया है। और परिवार में तो वाद-विवाद होते रहते हैं। ये जरुरी नहीं कि शो का हर दिन अच्छा हो। शो सबके लिए समान है। अगर शो में बने रहने है तो शो में डिसीप्लीन रखना बहुत जरुरी है। शो के सेट पर कोई भी अपनी मर्जी नहीं चला सकता।