नशे में धुत पिता ने घर में सोते समय बेटे के सिर में मारी गोली, नशा करके नीचे गिरा तो थाने में किया सरेंडर

0
6

छपरा (सारण)। बिहार के सारण जिले के छपरा से हत्या की एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. एक पिता ने अपने ही बेटे को मार डाला। बताया जाता है कि नशे में धुत होकर हत्यारे ने अपने ही सो रहे बेटे के सिर में गोली मार दी। नशे में धुत होने के बाद व्यक्ति को इस बात का अहसास हुआ और उसने थाने जाकर सरेंडर कर दिया। इस हत्याकांड का स्वरूप सामने आने के बाद जहां परिवारों में कोहराम है वहीं आम नागरिक भी सदमे में है. युवक के परिवार की हालत नाजुक है। मृतक पूजा कर मंदिर से घर आया था और सो रहा था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले के नगरा थाना क्षेत्र के आफोर गांव में एक पिता ने अपने बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी. मृतक का नाम सोनू है। मृतक के पिता नागेंद्र साह पर बीती रात सोनू की हत्या का आरोप है जब वह सो रहा था। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी के पास से एक देशी पिस्टल और 3 खाली कारतूस बरामद किया है। बताया जा रहा है कि इस घटना के पीछे आपसी विवाद है। मृतक के भाई अनुज कुमार ने बताया कि सोनू बाबा महेंद्र नाथ को देखकर घर पहुंचे और सो रहे थे. देर रात सोनू की उसके पिता ने संदिग्ध परिस्थितियों में गोली मारकर हत्या कर दी।

पिता ने बेटे को मार डाला

मृतक सोनू कुमार साह मंदिर में पूजा-अर्चना कर लौटे थे और घर में सो रहे थे। (समाचार 18 हिंदी)

सिर में गोली मार दी
हत्याकांड का पिता नशे का आदी था और कहा जाता है कि उसने नशे में इस घटना को अंजाम दिया था। घटना के बाद आरोपी पिता फरार हो गया, लेकिन आरोपी ने शराब के नशे में थाने में सरेंडर कर दिया. घटना बीती देर रात की बताई जा रही है। मृतक नागेंद्र साह उर्फ ​​बनारस साह का 25 वर्षीय पुत्र सोनू कुमार साह बताया जा रहा है. घटना को लेकर कहा जाता है कि सोनू दिन में पहले बोल बम से लौटा था और घर में सो रहा था. इसी बीच देर रात उसके पिता ने उसके सिर में गोली मार दी, जब वह सो रहा था।

गोलियों की आवाज सुनकर परिजन आ गए
गोली की आवाज सुनकर परिजन और पाटीदार वहां पहुंचे तब तक आरोपी नागेंद्र साह फरार हो चुका था, जिसके बाद सोनू को स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई. उनके माथे पर फिल्मी अंदाज में गोली मारी गई थी. घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए छपरा सदर अस्पताल भेज दिया. मृतक के चचेरे भाई अनुज कुमार ने बताया कि सोनू को उसके पिता ने बीती देर रात गोली मार दी थी, जिसके बाद शुक्रवार सुबह आरोपी पिता ने थाने में सरेंडर कर दिया. हम आपको बता दें कि सोनू पांच भाई-बहनों में सबसे बड़े थे। उनके पिता ताड़ी बेचने का काम करते हैं।