तेजस राजधानी और टाटानगर साप्ताहिक एक्सप्रेस ट्रेन को मिली मंजूरी, जानिए किन स्टेशनों से चलेगी

0
4

मुंगेर और लखीसराय के लोगों का सपना साकार होने वाला है. दरअसल, अगरतला-आनंद विहार टर्मिनल तेजस राजधानी एक्सप्रेस वाया जमालपुर-कियोल का रास्ता साफ हो गया है। टाटानगर के लिए नई साप्ताहिक ट्रेन शुरू करने पर भी सहमति बनी है। मुंगेर के सांसद राजीव रंजन उर्फ ​​ललन सिंह की पहल पर जल्द ही दोनों ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने सांसदों की मांग को हरी झंडी दे दी है. कटिहार होकर चलने वाली तेजस राजधानी एक्सप्रेस का रिजर्वेशन अगले महीने से पुराने रूट पर बंद होने की संभावना है। इसलिए राष्ट्रीय राजधानी और टाटानगर जाना सुविधाजनक होगा। नई साप्ताहिक एक्सप्रेस भागलपुर-टाटानगर के बीच बुधवार को टाटानगर से चलेगी और गुरुवार को भागलपुर से चलेगी।

यह ट्रेन टाटानगर से 2.30 बजे रवाना होगी और जमालपुर होते हुए अगले दिन 3.45 बजे भागलपुर पहुंचेगी. यह भागलपुर से शाम साढ़े पांच बजे रवाना होगी और अगले दिन सुबह साढ़े छह बजे टाटानगर पहुंचेगी। यह ट्रेन जमालपुर-किउल-जसीडीह-धनबाद-बोकोरो-मुरी जंक्शन होते हुए टाटानगर जाएगी। अगरतला-आनंद विहार टर्मिनल राजधानी एक्सप्रेस सोमवार शाम अगरतला से रवाना होगी और अगले दिन रात जमालपुर पहुंचेगी। वहीं, बुधवार को आनंद विहार टर्मिनल से शाम 7.50 बजे प्रस्थान करेगी और गुरुवार दोपहर को जमालपुर पहुंचेगी. मालदा-भागलपुर-जमालपुर-किऊल रूट पर चलने वाला तेजस राजधानी साहिबगंज, भागलपुर फिर मालदा फिर जमालपुर में रुकेगा.

21 साल से राजधानी एक्सप्रेस को भागलपुर के रास्ते दिल्ली चलाने की मांग की जा रही है। अब एमपी की पहल पर इस रूट को तेजस राजधानी की सौगात मिली है। अब जल्द ही फरक्का एक्सप्रेस यूपी रूट पर भागलपुर-जमालपुर-क्यूल रेलवे सेक्शन के बरियारपुर स्टेशन पर रुकेगी. वहीं रेल मंत्रालय ने अभयपुर स्टेशन पर बांका इंटरसिटी के डाउनबाउंड स्टॉप कजरा स्टेशन पर डाउन रूट पर सार्वजनिक सेवाओं के निलंबन को भी मंजूरी दे दी है. कोरोना के समय में जिन स्टेशनों से अप और डाउन रूटों पर ट्रेनों को रोका गया है, उन्हें बहाल किया जाएगा. अभयपुर स्टेशन और कजरा रेलवे स्टेशन पर ट्रेन इंडिकेशन बोर्ड, ऑटोमेटिक अनाउंसमेंट सिस्टम, डिजिटल क्लॉक, सीसीटीवी कैमरा भी लगाया जाएगा.

सांसद राजीव रंजन उर्फ ​​ललन सिंह ने कहा कि वह क्षेत्र की जनता के लिए हमेशा तैयार हैं. मुंगेर में इंजीनियरिंग और वानिकी कॉलेज के निर्माण के बाद जल्द ही मेडिकल कॉलेज का निर्माण शुरू होगा. उन्होंने कहा कि रेलवे फैक्ट्री के डीजल शेड को इलेक्ट्रिक शेड में बदलने का काम चल रहा है. अप्रेंटिस एक्ट को लेकर रेल मंत्री से चर्चा हो चुकी है। उन्होंने कहा कि दोनों ट्रेनों के चलने से मुंगेर और लखीसराय के यात्रियों को काफी सुविधा होगी. दोनों ट्रेनों के संचालन को लेकर रेल मंत्री से बातचीत हो चुकी है और जल्द ही इनका संचालन शुरू हो जाएगा.