शनि पूजा में गलती से हो सकता है भारी नुकसान, जानिए महत्वपूर्ण नियम

0
6

शनि की पूजा में गलती करने से हो सकता है बड़ा नुकसान- शनि देव पूजा के नियम इस प्रकार हैं: शनिवार शनि देव को समर्पित है। हालांकि, जो लोग नियमित रूप से भगवान शनि की पूजा करते हैं, उन्हें विशेष फल मिलते हैं। शनिदेव की कृपा पाने के लिए इन छोटी-छोटी बातों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

शनि देव: शास्त्रों में शनि देव को कर्म दाता और न्याय के देवता के रूप में वर्णित किया गया है। शनिदेव व्यक्ति को उसके अच्छे और बुरे कर्मों के आधार पर फल देते हैं। यदि शनि देव किसी व्यक्ति को आशीर्वाद देते हैं, तो वह उसे राजा बनाते हैं। हालांकि, शनि का अशुभ पहलू व्यक्ति को रास्ते में आने में देरी नहीं करता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनिदेव की कई बार पूजा करने पर भी व्यक्ति को कोई फल नहीं मिलता है। ऐसे में पूजा के दौरान कुछ गलतियां हो जाती हैं। शनिदेव की पूजा करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

आंखों से संपर्क टालें

आमतौर पर, जब लोग पूजा करते हैं, तो वे भगवान की आंखों में देखते हैं और उनके अच्छे होने की कामना करते हैं। शनि की आंखों में देख कर मन्नत बनाना न भूलें। जब कोई व्यक्ति शनि को देखता है, तो उसके जीवन में कई परेशानियां आती हैं। इसलिए शनिदेव की पूजा करते समय हमेशा पलकें नीची करनी चाहिए।

इन चीजों का आनंद लें

कोई भी देवता कुछ भी भोग सकता है। हालांकि, भगवान शनि को हमेशा काले तिल और खिचड़ी का भोग लगाया जाता है।

तांबे के बर्तनों का प्रयोग न करें

देवी-देवताओं की पूजा के लिए तांबे के बर्तन को सबसे शुभ माना जाता है। शनि की पूजा करते समय तांबे के बर्तन का प्रयोग करना न भूलें। तांबे का संबंध सूर्य देव से है। शनि सूर्य के पुत्र हैं। दोनों पक्ष एक-दूसरे के प्रति दुश्मनी महसूस करते हैं। इसलिए शनिदेव के लिए लोहे के बर्तनों का प्रयोग करना चाहिए।

शनि के सामने दीपक न जलाएं

पूजा में प्रत्येक देवता के सामने एक दीपक जलाया जाता है। हालांकि, शनि के सामने दीपक जलाना मना है। शनिदेव की मूर्ति के सामने दीपक जलाने की बजाय उसे किसी पिंपल के पेड़ के नीचे रखें। इससे शनि देव जल्दी प्रसन्न होते हैं।

सुनिश्चित करें कि आपके कपड़े साफ हैं

शनिदेव की पूजा करते समय काले और नीले रंग के वस्त्र शुभ माने जाते हैं। इसलिए शुभ फल की प्राप्ति होती है। शनिदेव की पूजा में लाल वस्त्र धारण करें।

व्हाट्सएप से जुड़ें