बिहार में कोरोना के चलते सादगी से मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस, नहीं होगा कोई बड़ा आयोजन

0
5

पटना। बिहार और देश में कोविड-19 के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए इस बार राज्य में स्वतंत्रता दिवस साधारण तरीके से मनाया जाएगा. राज्य सरकार ने एक सर्कुलर में यह जानकारी दी है. सर्कुलर के अनुसार, बिहार के आम नागरिकों के अलावा अन्य राज्यों के आमंत्रित लोगों को ध्वजारोहण समारोह में शामिल होने की अनुमति नहीं होगी. बिहार के कैबिनेट सचिवालय विभाग की ओर से शुक्रवार को जारी सर्कुलर में कहा गया है कि इस मौके पर राजधानी पटना को छोड़कर कोई भी सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं होगा.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 15 अगस्त को गांधी मैदान में राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे. इस बार कुछ पाबंदियों के साथ एनसीसी (नेशनल कैडेट कोर) के कैडेट समारोह में शामिल होंगे। राजधानी पटना में होने वाले इस कार्यक्रम में सिर्फ सात-आठ झलक देखने को मिलेगी.

कैबिनेट सचिवालय विभाग के एक परिपत्र के अनुसार, पटना को छोड़कर सभी आयुक्त और जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) अपने कार्यालय परिसर में तिरंगा फहराएंगे. राष्ट्रीय ध्वज फहराते समय, सामाजिक दूरी बनाए रखने, मास्क पहनने, स्वच्छता बनाए रखने और बड़ी सभाओं से बचने जैसे कोविड दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन करना आवश्यक होगा। अधिकारियों को भारी भीड़ से बचने के लिए कार्यक्रम का सीधा प्रसारण करने के निर्देश दिए गए हैं।

कोरोना संक्रमण के चलते बिहार में पिछले दो साल से स्वतंत्रता दिवस साधारण तरीके से मनाया जा रहा है. (भाषा से इनपुट)