पटना : प्रधानाध्यापिका ने देर से आने का कारण पूछा तो शिक्षकों ने स्कूल में मारपीट की.

0
5

पटना। बिहार की राजधानी पटना से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. बिक्रम प्रखंड के निसारपुरा बेसिक स्कूल की प्रधानाध्यापिका को एक ही स्कूल के तीन शिक्षकों ने बेरहमी से पीटा. दरअसल, स्कूल में देरी से आने पर प्रिंसिपल ने शिक्षकों से सवाल-जवाब किए. शिक्षकों की बेरहमी से पिटाई से स्कूल के बच्चे दहशत में आ गए और आवाज उठाने के बाद मोहल्ले के लोगों ने आकर प्रधानाध्यापिका को शिक्षकों के चंगुल से छुड़ाया.

प्रधानाचार्य शारदा कुमारी ने विक्रम थाने में शिक्षक रानी कुमारी, रितु राज और रूपा रानी को बंधक बनाकर पीटने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आवेदन किया है. जिला कलेक्टर ने पूरे मामले की जांच के बाद संबंधित समूह विकास अधिकारियों को इन तीनों शिक्षकों को तत्काल निलंबित करने और 24 घंटे के भीतर जानकारी उपलब्ध कराने के आदेश दिए हैं. प्रधानाध्यापिका के अनुसार शनिवार की सुबह करीब नौ बजे वह स्कूल पहुंची। तब तक शिक्षिका रानी कुमारी, रितु राज और रूपा रानी स्कूल नहीं पहुंच पाई थीं।

स्कूल में देर से आने का कारण पूछने पर तीनों शिक्षकों ने गुस्से में आकर उसे कमरे में बंद कर पीटना शुरू कर दिया। शोर तेज होने पर बच्चे कमरे के बाहर जमा हो गए और चिल्लाने लगे। बच्चों की आवाज सुनकर आसपास के ग्रामीणों ने दरवाजा खोला और प्रधानाध्यापिका को छुड़ाया। प्रधानाध्यापिका के अनुसार रानी कुमारी स्कूल की प्रभारी नहीं हैं, लेकिन फिर भी उस कार्यालय में आवश्यक रजिस्टरों का रखरखाव करती हैं और आज तक प्रभार नहीं दिया है।

शिक्षक अक्सर स्कूल देरी से आते हैं। प्रधानाध्यापिका ने कहा कि आरोपी ने उसके साथ पहले भी दुर्व्यवहार किया था। इस बात की जानकारी उन्होंने अपने अधिकारियों को भी दी थी, लेकिन शिकायत दर्ज कराने के बावजूद आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है. रानी कुमारी, रितु राज और रूपा रानी अक्सर 11 बजे के बाद ही स्कूल आती हैं। इतना ही नहीं, वे अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हैं और स्कूल बंद होने से पहले घर चले जाते हैं। पिटाई की सूचना मिलते ही बीडीओ व समूह शिक्षा अधिकारी मौके पर पहुंचे और प्रधानाध्यापिका शारदा कुमारी, स्कूली बच्चों, रसोइया से पूछताछ की.

बीडीओ ने कहा कि फिलहाल मामले की जांच की जा रही है और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. एसएचओ ने बताया कि इस संबंध में प्राचार्य द्वारा दिए गए आवेदन की फिलहाल जांच की जा रही है.