रिटायर्ड इंस्पेक्टर के अंतिम संस्कार के लिए परिवार बिहार गया था, तो चोरों ने घर से लाखों की संपत्ति चुरा ली

0
5

हाइलाइट

झारखंड के रामगढ़ में चोरी की इस घटना के बाद पुलिस जांच में जुट गई है.
चोरों ने घर से कीमती सामान, जेवर व डॉलर चुराए
परिवार के सभी सदस्य अंतिम संस्कार के लिए बिहार के छपरा गए थे.

रिपोर्ट – जावेद खान

रामगडीझारखंड के रामगढ़ में चोरों ने एक बड़ी घटना को अंजाम दिया है. शहर के छोटाकी मुर्रम के आनंद नगर इलाके में बिहार पुलिस बल के सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी परमात्मा सिंह के बंद घर में चोरों ने जघन्य चोरी को अंजाम दिया है. चोरों ने घर से पांच लाख रुपये नकद, 12 लाख रुपये के जेवरात और तीन हजार डॉलर चुरा लिए. रिटायर्ड इंस्पेक्टर परमात्मा सिंह की 20 जुलाई को रांची में इलाज के दौरान मौत हो गई थी. उसी दिन शव के साथ परिवार के सभी सदस्य अंतिम संस्कार के लिए बिहार के अपने पैतृक गांव छपरा गए.

इसी दौरान चोरों ने मौके का फायदा उठाते हुए अपने घर के दो अलग-अलग फ्लैटों के ताले तोड़कर लूट को अंजाम दिया और नकदी व जेवरात चुरा ले गए. चोरों ने चार कमरों की अलमारी तोड़ दी और पांच लाख रुपये नकद, तीन हजार डॉलर, करीब बारह लाख रुपये के जेवर, सैमसंग एलईडी टीवी, कीमती कपड़े, दो ट्रॉली बैग आदि चोरी कर लिए। सेवानिवृत्त इंस्पेक्टर के बेटे रूपेश कुमार सिंह दक्षिण अफ्रीका में इंजीनियर हैं। वह कुछ दिन पहले अपने पिता के इलाज के लिए रामगढ़ आया है।

घरवालों को चोरी की सूचना पड़ोसियों ने मोबाइल फोन के जरिए दी। चोरी की घटना की सूचना मिलते ही रामगढ़ थाना पुलिस ने जांच पड़ताल की. सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी के दामाद कमलेश सिंह ने पुलिस को बताया कि वह रांची में एक निजी कंपनी में काम करता है. वह घर के एक फ्लैट में सास-ससुर और दूसरे फ्लैट में पत्नी व बेटे के साथ रहता है। 20 जुलाई की रात ससुराल वालों की मौत के बाद सभी शव लेकर छपरा गए।

वह 28 जुलाई को रामगढ़ पहुंचा और उसी दिन रात को जरूरी काम पूरा कर छपरा लौट आया। इस बीच फोन पर घर में चोरी की सूचना मिली। रामगढ़ थाना प्रभारी एचएन सिंह ने बताया कि मामले की गहनता से जांच की जा रही है. जल्द ही चोरों को पकड़ लिया जाएगा।