गोपालगंज में जुलाई में जब्त 12,000 लीटर से अधिक शराब बुलडोजर चला, 300 व्यवसायी गिरफ्तार

0
3

गोपालगंज। बिहार के गोपालगंज में जब्त की गई करोड़ों रुपये की शराब के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई है. विशेष अभियान चलाकर जब्त की गई हजारों लीटर देशी-विदेशी शराब को बुलडोजर (अवैध शराब पर बुलडोजर) द्वारा नष्ट कर दिया गया और खाली बोतलों को गड्ढों में खोदकर जमीन में फेंक दिया गया. पुलिस की इस कार्रवाई से क्षेत्र के शराब माफियाओं में हड़कंप मच गया है. पुलिस अधीक्षक (एसपी) आनंद कुमार ने बताया कि जुलाई माह में पूरे जिले में शराब तस्करों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गयी जिसमें विभिन्न थानों की सीमा से हजारों लीटर देशी व विदेशी शराब जब्त की गयी. इस बार पुलिस ने 300 से अधिक शराब विक्रेताओं को गिरफ्तार किया है. कानूनी प्रक्रिया के तहत इन तस्करों के पास से जब्त की गई शराब की बोतलों पर बुलडोजर (शराब पर जेसीबी) चलाया गया है।

उन्होंने बताया कि सोमवार को एक ही समय पर तीन स्थानों पर बुलडोजर चलाकर 12,000 लीटर से अधिक देशी-विदेशी शराब नष्ट कर दी गयी. जब्त की गई अवैध शराब को हाथुआ के सबाया एयरपोर्ट, फुलवरिया थाना परिसर और यूपी-बिहार में बलथरी चेक पोस्ट पर जेसीबी ने एक साथ नष्ट कर दिया. इसके बाद जमीन में एक गड्ढा खोदा गया और खाली शराब की बोतलों को दफना दिया गया। जब्त की गई शराब की वीडियोग्राफी कराकर कोर्ट व जिलाधिकारी (डीएम) को सौंप दिया गया।

दरअसल गोपालगंज जिला उत्तर प्रदेश से सटा हुआ है। यहां निरीक्षण के दौरान यूपी और हरियाणा में उत्पादित अधिकांश शराब जब्त की गई है। एसपी ने कहा कि इस क्षेत्र में शराब तस्करों की गिरफ्तारी नहीं होगी. पुलिस लगातार अभियान चलाकर शराब तस्करों के खिलाफ कार्रवाई करेगी और अवैध शराब को नष्ट करेगी.

बिहार में अप्रैल 2016 से पूरी तरह शराबबंदी है. इसके तहत राज्य में शराब की बिक्री और खरीद पर पूर्ण प्रतिबंध है। अगर कोई इसका उल्लंघन करता पाया गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।