लालू प्रसाद यादव को सीबीआई कोर्ट ने दी बड़ी राहत, अब इलाज के लिए सिंगापुर जा सकते हैं

0
6

पटना। पटना हाईकोर्ट ने राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को बड़ी राहत दी है. अब वह इलाज के लिए सिंगापुर जा सकते हैं। सीबीआई कोर्ट ने उन्हें सिंगापुर जाने के लिए अपना पासपोर्ट रिन्यू कराने की इजाजत दे दी है। सीबीआई कोर्ट के विशेष न्यायाधीश महेश कुमार ने लालू यादव के वकील सुधीर कुमार सिन्हा की अर्जी पर यह इजाजत दी है. उन्होंने लालू यादव के पासपोर्ट के नवीनीकरण की अनुमति के लिए अदालत में आवेदन किया था। इससे पहले 14 जून को रांची की सीबीआई कोर्ट ने लालू यादव को विदेश जाने की इजाजत दी थी.

लालू प्रसाद यादव पिछले एक साल से सिंगापुर के एक डॉक्टर के संपर्क में हैं। पिछले साल नवंबर में भी सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट की बात सामने आई थी। लालू कई बीमारियों से पीड़ित हैं, जिनमें टाइप-2 डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर उनकी सबसे बड़ी समस्या है। उनका इलाज कर रहे दो वरिष्ठ डॉक्टरों के मुताबिक लालू प्रसाद को 15 बीमारियां हैं. उनकी सबसे बड़ी चिंता उनकी अनियंत्रित मधुमेह है, जो पूरी तरह से इंसुलिन पर निर्भर है।

लालू प्रसाद यादव हाल के दिनों में काफी बीमार चल रहे हैं. उन्हें डायबिटीज के साथ-साथ किडनी की भी समस्या थी। दरअसल 3 जुलाई को पटना में राबड़ी देवी के आवास पर लालू यादव सीढ़ियों से गिर गए थे. इसके बाद 4 जुलाई की सुबह उन्हें पटना के पारस अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनकी हालत में थोड़ा सुधार होने पर उन्हें 7 जुलाई को दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया था। वहां से ठीक होने के बाद वह दिल्ली में अपनी बेटी मीसा भारती के घर पर रह रहे हैं।

जमानत पर बाहर हैं लालू यादव
राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद को सीबीआई की विशेष अदालत ने पांच अलग-अलग चारा घोटालों में दोषी ठहराया है। हाईकोर्ट ने इन सभी मामलों में आधी सजा पूरी होने, स्वास्थ्य कारणों और उसकी बढ़ती उम्र को देखते हुए जमानत दे दी थी। लालू प्रसाद फिलहाल जमानत पर बाहर हैं।

फिलहाल लालू प्रसाद जमानत पर बाहर हैं, हालांकि चारा घोटाला का एक मामला पटना की विशेष अदालत में लंबित है, जिसमें लालू भी आरोपी हैं. ऐसे में कोर्ट ने इस मामले में वादी की गवाही के लिए अगली तारीख 10 अगस्त 2022 तय की है।