बिहार में अपराध: चोरों ने डेहरी में तमिलनाडु के राज्यपाल के घर में तोड़फोड़ की

0
3

हाइलाइट

घर की हालत देखने के बाद लगता है कि चोरों ने पूरे घर की अच्छी तरह तलाशी ली.
भतीजे ने बताया है कि करीब 10 लाख रुपये का सामान चोरी हुआ है.
अभी तक पुलिस को कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है और पुलिस चोरों को पकड़ने में लगी हुई है।

पटना। फिलहाल बिहटा थाना क्षेत्र में चोरों की धरपकड़ चल रही है। आलम का मतलब है कि उन्होंने तमिलनाडु के राज्यपाल रवींद्र नारायण रवि के घर को निशाना बनाया। दरअसल, तमिलनाडु के राज्यपाल रवींद्र नारायण के दिवंगत भाई निरंजन प्रसाद सिंह का घर डेहरी गांव में है. पिछले दिन जब घर बंद था तो अज्ञात चोरों ने ताला तोड़कर लाखों रुपये के जेवर समेत नकदी चोरी कर ली। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस मकान में मृतक निरंजन प्रसाद सिंह की पत्नी राजमणि कुंवर अकेली रहती है. घर के कामों में मदद करने के लिए उनके पास एक हेल्पर था। 27 जुलाई को वह अपने पोते के साथ राज्यपाल के भाई रविंद्र नारायण रवि से मिलने चेन्नई गई थीं। इसी दौरान रात में चोर दीवार पर चढ़कर घर में घुसे और गेट का ताला तोड़कर करीब 10 लाख रुपये का मुआवजा लूट लिया।

भतीजे गिरेंद्र शर्मा ने घटना के बारे में बताया कि राजमणि कुंवर (चाची) अपने पोते, बड़े भाई राज्यपाल रविंद्र नारायण रवि के साथ चेन्नई गई थीं। घर में काम करने के लिए एक ही हेल्पर था। जो किन्हीं कारणों से काम से घर नहीं आए। मंगलवार की शाम करीब चार बजे जब वह काम के लिए घर आई तो घर का ताला टूटा हुआ मिला। यह देख वह रोने लगी। उसकी चीख-पुकार सुनकर हम पहुंचे तो घर का सारा सामान इधर-उधर फेंका। तभी चोरी का पता चला।

गिरेंद्र ने कहा कि चोर दीवार पर चढ़कर घर में घुस गए। चोरों ने घर से नगदी समेत दस लाख के जेवर चुरा लिए। घटना की सूचना मौसी को दी गई है। इसके आने के बाद ही हमें पता चलेगा कि कितने रुपये का माल है।

एसएचओ रंजीत कुमार ने बताया कि चोरी की जानकारी मिली है. फिलहाल इस मामले में कोई लिखित शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है। शिकायत दर्ज होने के बाद सख्त कार्रवाई की जाएगी। वैसे चोरों को पकड़ने के लिए इलाके में छापेमारी की जा रही है.