जब ड्राइवर ने बदला हुआ दृश्य देखा तो उसे पता चला कि ट्रेन गलत ट्रैक पर चल पड़ी है।

0
4

हाइलाइट

एएसएम ने गुवाहाटी-जम्मूतवी अमरनाथ एक्सप्रेस को बछवाड़ा जंक्शन पर गलत दिशा में मोड़ दिया।
चालक ने बदले हुए दृश्य को देखा और कंट्रोल रूम से बात की, जिसके बाद अधिकारियों को गलती का अहसास हुआ।
सहायक स्टेशन मास्टर को प्रारंभिक जांच के बाद निलंबित कर दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

बेगूसराय। बेगूसराय में ट्रेन चालक की सूझबूझ से बड़ा रेल हादसा होने से टल गया। दरअसल, समस्तीपुर जाने वाली ट्रेन हाजीपुर रेलवे लाइन पर खड़ी थी। ट्रेन चालक को सहायक स्टेशन मास्टर (एएसएम) ने गलती पर ध्यान दिया। इसलिए उन्होंने ट्रेन रोकी और कंट्रोल रूम से बात की.

जब स्टेशन पर खबर पहुंची कि ट्रेन गलत ट्रैक पर निकल गई है तो सबकी सांसें थम गईं. किसी तरह इस ट्रेन को वापस स्टेशन लाया गया और समस्तीपुर के लिए दाहिने रास्ते पर छोड़ दिया गया। इस ढिलाई के लिए सहायक स्टेशन मास्टर सूरज कुमार को निलंबित कर दिया गया है और मामले की जांच की जा रही है.

दरअसल, ट्रेन के ड्राइवर को इस बात का अहसास हुआ कि ट्रेन गलत रास्ते पर जा चुकी है जब उसने बाहर का नजारा देखा। उन्होंने देखा कि समस्तीपुर मार्ग पर बाहर का दृश्य पूरी तरह बदल चुका था। इस बात का अहसास होते ही उन्होंने कंट्रोल रूम से बात की और उसके बाद असिस्टेंट स्टेशन मास्टर ने गलती को सुधारा.

मामला गुरुवार सुबह समस्तीपुर कटिहार रेलवे सेक्शन के बछवाड़ा जंक्शन का है. गुवाहाटी-जम्मूतवी अमरनाथ एक्सप्रेस जैसे ही बछवाड़ा जंक्शन पहुंची, उसे निर्धारित ट्रैक के बजाय दूसरे ट्रैक पर डायवर्ट कर दिया गया. प्रारंभिक जांच के बाद वरिष्ठ अधिकारियों ने तत्काल एएसएम सूरज कुमार को ड्यूटी पर निलंबित कर दिया और मामले की जांच की जा रही है.

हालांकि, यह देखा गया कि अधिकारी इस बारे में स्पष्ट रूप से कुछ भी कहे बिना मीडिया से बात करने से बचते रहे। लेकिन मौके पर मौजूद स्थानीय लोगों ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि एएसएम की गलती के बावजूद आज ड्राइवर की सूझबूझ से बड़ा हादसा होते-होते टल गया.