अंध विश्वास! 22 साल के युवक ने पुजारी का सिर काटकर 2 किमी दूर फेंका

0
13

पुलिस ने बताया कि आरोपी 22 वर्षीय अच्छे लाल कुमार चनपटिया थाना क्षेत्र के पिपरा गांव का रहने वाला है. पुलिस ने मौके से आरोपी की चप्पल और घटना में प्रयुक्त हुसुआ भी बरामद किया है।

अंध विश्वास!  22 साल के युवक ने पुजारी का सिर काटकर 2 किमी दूर फेंका

(संकेत चित्र)

बिहार के बेतिया में एक पुजारी की हत्या को पुलिस ने 18 घंटे के अंदर सुलझा लिया. पुलिस ने पुजारी की हत्या के आरोपित को भी गिरफ्तार कर लिया है। बेतिया के पुलिस अधीक्षक उपेंद्र नाथ वर्मा ने गुरुवार को बताया कि 22 वर्षीय युवक ने अंधविश्वास और जादू टोना के चलते पुजारी की हत्या कर दी. गिरफ्तार आरोपी से पूछताछ के बाद पुलिस ने उसे जेल भेज दिया। वहीं, पुलिस ने मंदिर से खून से सना दुपट्टा, खून से सना शर्ट, खून से सना बनियान और चोरी का कंबल बरामद किया है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी 22 वर्षीय अचललाल कुमार चनपटिया थाना क्षेत्र के पिपरा गांव का रहने वाला है. पुलिस ने मौके से आरोपी की चप्पल और घटना में प्रयुक्त हुसुआ भी बरामद किया है।

पुजारी की सिर काट कर हत्या

गोपालपुर थाना क्षेत्र के बकुलहार मठ स्थित राम जानकी मंदिर के पुजारी रुदल प्रसाद वर्णवाल का बुधवार की सुबह मंदिर में ही सिर कलम कर दिया गया. वहीं, मंदिर से दो किलोमीटर दूर चनपटिया थाना क्षेत्र के पिपरा गांव स्थित काली मंदिर में सिर का कटा हुआ सिर मिला.

मंदिर से सामान चुराता था आरोपी

एसपी ने बताया कि इस हत्याकांड में एक ही आरोपी है. इस घटना को अकेले अच्छेलाल कुमार ने रचा था। वह पहले मंदिर से सामान चुराता था। इसको लेकर पुजारी से विवाद हो गया। इसके साथ ही आरोपित ने अंधविश्वास और जादू टोना के चलते इस घटना को अंजाम दिया है।

इसे भी पढ़ें


साम्प्रदायिक सदभाव भंग होने का था डर

एसपी ने बताया कि पुजारी की हत्या को लेकर मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई थी. पुजारी की हत्या के बाद लोगों में जबरदस्त आक्रोश है। वहीं घटना को हवा देकर साम्प्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की आशंका थी, लेकिन पुलिस ने तत्काल जांच कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.