बिहार: कांग्रेस कोटे से सिर्फ तीन चेहरों को बनाया जाएगा मंत्री, फिलहाल दो को मिलेगा मौका

0
8

पटना। बिहार में महागठबंधन सरकार में कांग्रेस की क्या भूमिका होगी इसकी तस्वीर लगभग साफ है. बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास ने इस मामले में बयान देते हुए कहा है कि बिहार सरकार में कांग्रेस कोटे से तीन मंत्री बनाए जाएंगे. दो मंत्री अब शपथ लेंगे, जबकि तीसरे को भविष्य में होने वाले कैबिनेट विस्तार में नीतीश के मंत्रिमंडल में जगह मिलेगी. पटना पहुंचे भक्त चरण दास ने कहा कि अभी मंत्रियों के नाम तय नहीं हुए हैं, लेकिन किसी भी हाल में सोमवार तक उन पर फैसला हो जाएगा.

बिहार की नई सरकार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने शपथ ली है, जिसके बाद कैबिनेट गठन की कवायद चल रही है. सहयोगी दलों के नेता लगातार दिल्ली में हैं और मंत्री को लेकर अपने-अपने दलों के आलाकमान से बातचीत चल रही है. बिहार कांग्रेस के तमाम बड़े नेता यह तय करने दिल्ली पहुंचे थे कि कांग्रेस में कितने मंत्री होंगे और कौन मंत्री होंगे. आलाकमान से भी चर्चा हुई, लेकिन कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने कहा कि आलाकमान की तबीयत खराब हो गई है, इसलिए वह इस बारे में ठीक से बात नहीं कर सके.

बिहार प्रभारी भक्त चरण दास स्पष्ट रूप से कहते हैं कि नई बिहार सरकार में कांग्रेस के तीन मंत्री होंगे. यही स्थिति राजद के साथ भी होगी। महागठबंधन में किसी भी दल ने मंत्री के नाम की घोषणा को लेकर अभी तक अपने दरवाजे नहीं खोले हैं. कांग्रेस महासचिव मुकुल वासनिक आज पटना पहुंचे हैं. सुबह उनके स्वागत के लिए कांग्रेस के बिहार प्रभारी भक्त चरणदास, प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, अखिलेश सिंह समेत तमाम नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे.

पटना पहुंचे मुकुल वासनिक ने कहा कि मैं 75 साल के स्वतंत्रता समारोह में भाग लेने के लिए पटना पहुंचा हूं और बिहार से जुड़े सभी मामलों की देखरेख भक्त चरण दास कर रहे हैं, जो बिहार के प्रभारी हैं. खबर है कि नीतीश कुमार ने एनडीए छोड़ दिया और बिहार में महागठबंधन के साथ नई सरकार बनाई. राजद, कांग्रेस और वाम दलों के समर्थन से महागठबंधन में सरकार बनी थी।