शराब की बिक्री का विरोध करने पर उसके भाइयों और चाचाओं ने उसकी हत्या कर दी।

0
10

बेगूसराय। बिहार में लगा शराबबंदी अब लोगों के जीवन के लिए आपदा बनता जा रहा है. जहां एक तरफ जहरीली शराब पीकर कई जगह लोग मर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ शराब का धंधा कर भाई-बहनों के दुश्मन बन गए हैं और जान लेने से भी नहीं कतरा रहे हैं. ताजा मामला बेगूसराय जिले का है जहां गढ़पुरा थाना क्षेत्र के बलुआहा गांव में हत्या की घटना हुई. मृतक के परिजनों का आरोप है कि बहनोई धर्मेंद्र और चचेरे भाई रामानंद ने मंटून महतो को बेरहमी से पीटा और हत्या की वजह शराब थी.

फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। मृतक की बहन और पत्नी ने बताया कि मृतक का भाई धर्मेंद्र कुमार और चाचा रामानंद शराब के धंधे में शामिल थे. शाम को वह मृतक के दरवाजे पर बैठकर लोगों को शराब परोसता था, जिसका मंटुन और उसकी पत्नी द्वारा लगातार विरोध किया जाता था। विरोध करने के बाद आरोपी ने मृतक की पत्नी चंदा देवी को कई बार पीटा और मृतक पर पत्नी को छोड़ने का दबाव बनाता रहा, लेकिन मृतक तैयार नहीं हुआ.

कहा जाता है कि धर्मेंद्र और रामानंद आए और मंटुन को लाठियों से पीटने लगे। फिर उसे इलाज के लिए एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया, लेकिन डॉक्टर ने मंटून और उसकी पत्नी को पैसे जमा करने के लिए कह कर घर भेज दिया। चंदा देवी का आरोप है कि वह अपने माहेर के घर पैसे का इंतजाम करने गई थी, जबकि रामानंद महतो और धर्मेंद्र कुमार ने मंटून की हत्या कर उसके शव को पंखे से लटका दिया. फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और आगे की जांच शुरू कर दी है।

Hindi News18 सबसे पहले ब्रेकिंग न्यूज हिंदी में पढ़ें | पढ़ें आज की ताजा खबरें, लाइव न्यूज अपडेट, सबसे भरोसेमंद हिंदी न्यूज वेबसाइट News18 Hindi |

प्रथम प्रकाशित: 14 अगस्त 2022, दोपहर 3:22 बजे IST