ईगल्स ने कभी नहीं देखी ऐसी लड़ाई, वीडियो में देखिए कैसे एक-दूसरे की टांग खींच रहे हैं

0
12

बाजों की ऐसी लड़ाई कभी नहीं देखी – इज़राइल ने एक गैर-इलेक्ट्रिक एयर कंडीशनर (एसी) डिजाइन किया है। इसके अतिरिक्त, यह किसी भी ग्रीनहाउस गैसों का उत्सर्जन नहीं करता है। जानें कि यह कैसे काम करता है…
इसे इज़राइल में बिजली या तारों के बिना संचालित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। इसके अतिरिक्त, यह किसी भी ग्रीनहाउस गैसों का उत्सर्जन नहीं करता है। इस खास तरह के एसी को इजरायली स्टार्टअप ग्रीन किनोको ने विकसित किया है। हाल ही में स्टार्टअप ने इसका पेटेंट भी कराया था। बड़े पैमाने पर टेस्टिंग के लिए मैकेनिज्म तैयार किया जा रहा है. इनमें से कई एयर कंडीशनर तेल अवीव रेस्तरां में लगाए जाएंगे।

इज़राइली मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, उत्पाद 2023 की गर्मियों की शुरुआत में उपलब्ध होगा। ऐसे में सवाल उठता है कि बिना एसी के बिजली कैसे चलेगी?

बिना बिजली के एसी कैसे काम करता है

कंपनी के सीईओ लीसर के अनुसार, “हमने एक ऐसा एसी डिजाइन किया है जिसमें बिजली का उपयोग नहीं होता है। एसी को ठंडा करने के लिए, तरल नाइट्रोजन को गैसीय नाइट्रोजन और तरल नाइट्रोजन में संपीड़ित किया जाता है। इससे ऊर्जा उत्पन्न होती है, जिसका उपयोग एसी को चलाने के लिए किया जाता है। नाइट्रोजन को बदला जाना चाहिए। हर 7 से 10 दिनों में।

वह कहती हैं कि लिक्विड नाइट्रोजन का इस्तेमाल माइनस 196 डिग्री तक किया जा सकता है। नतीजतन, यह गैस में बदल जाता है और इंजन को सक्रिय करता है। यहां बताया गया है कि एसी कैसे काम करता है। लीजर के मुताबिक, एसी में पहले कभी नाइट्रोजन का इस्तेमाल नहीं किया गया है। यह अपनी तरह का पहला एयर कंडीशनर है।

खुले क्षेत्रों में भी उपयोगी
आराम के हिसाब से इस एसी को खुली जगह में भी इस्तेमाल किया जा सकता है। यह एसी एक घटना से प्रेरित है। लेज़र कहते हैं, ऐसी स्थितियों में एक रेस्तरां या कैफे में बनाया गया पार्क उपयोगी होगा। “मैंने एक बार पार्क में एक रेस्तरां देखा था। गर्मी इतनी थी कि कोई भी वहां रुकना नहीं चाहता था। इसलिए, एक एसी का उपयोग करने की सिफारिश की जाती है जिसे खुले स्थान पर रखा जा सकता है। इस तरह, लोग खुले वातावरण में मिल सकते हैं।

पर्यावरण के अनुकूल

अन्य एयर कंडीशनर की तुलना में यह नया एसी किसी भी तरह से पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचाता है। अन्य एसी के विपरीत, यह हानिकारक गैसों का उत्सर्जन नहीं करता है, जिससे ग्लोबल वार्मिंग का खतरा कम होता है। बिजली भी बचाई जा सकती है। लीज़र कहते हैं, नए एयर कंडीशनर ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन, बिजली की कमी, शोर और आर्द्रता को कम कर सकते हैं।

व्हाट्सएप से जुड़ें